Jhan jhan jhan jhan paayal baaje (From Buzdilamp039amp039) Various Artists Lyrics

Album Name Classic Bollywood Scores, Vol. 20 Bhagam Bhag (1952), Bhai Bhai (1956), Buzdil (1951)
Artist Various Artists
Track Name Jhan jhan jhan jhan paayal baaje (From Buzdilamp039amp039)
Label Golden century Music
Release Year 1951
Duration 03:18
Release Date 1951-01-01

Jhan jhan jhan jhan paayal baaje (From Buzdilamp039amp039) Lyrics

छन-छन-छन-छन-छन
छन-छन-छन-छन-छन
छन-छन-छन-छन-छन

झन-झन-छन-छन पायल बाजे
झन-झन-छन-छन पायल बाजे
कैसे जाऊँ पी से मिलन को
कैसे जाऊँ पी से मिलन को
लाज के मारे मरूं, कौन जतन करूं रामा
झन-झन-झन-झन पायल बाजे

कैसे जाऊँ, कैसे जाऊँ
कैसे जाऊँ पी से मिलन को
लाज के मारे मरूं, कौन जतन करूं रामा
झन-झन-झन-झन पायल

पार जिगर के, बाण विरह का
काजर कारी रैन
पाऊं में बेड़ी लाज की
तड़प तड़प रह जाऊं

मैं दुनिया की रीत निभाऊँ या मै प्रीत निभाऊँ रामा

झन-झन-झन-झन पायल बाजे
झन-झन-झन-झन पायल बाजे
कैसे जाऊँ पी से मिलन को
लाज के मारे मरूं, कौन जतन करूं रामा
झन-झन-झन-झन पायल

झन-झन-झन-झन
पायल बाजे छन-छन-छन-छन, छन-छन-छन-छन

छन-छन, झन-झनझन-झन पायल
छन-छन-छन छन-छन-छन पायल बाजे
झन-छन-छन छन-छन-छन पायल बाजे, बाजे-बाजे
झन-झन-छन-छन पायल

ग़म से भरा दिल, बोझा भारी
हम से चला ना जाए
कदम कदम मोरी चुनरी उलझे
और काँटा लग जाए

आँचल में इक दीप छुपाए निकली जोगन घर से
पिया की, निकली जोगन घर से
आया पवन झकोरा, दीपक थर-थर काँपे डर से
निकली जोगन घर से, पिया की, निकली जोगन घर से
आँचल में इक दीप छुपाए

झन-झन-झन-झन, झन-झन-झन-झन
रामा, झन-झन-झन-झन पायल बाजे
झन-झन-छन-छन पायल बाजे
कैसे जाऊँ पिय से मिलन को
लाज के मारे मरूं, कौन जतन करूं रामा
झन-झन-झन-झन पायल

पायल बाजे, झन-झन-छन-छन पायल बाजे
छन-छन-छन-छन, छन-छन-छन-छन, छन-छन
झन-छन-छन-छन पायल, बाजे, बाजे, बाजे
झन-झन-छन-छन पा…

Related Posts