Sabhi Kuchh Lutakar Nachiketa Ghosh Lyrics

Album Name Indrani
Artist Nachiketa Ghosh
Track Name Sabhi Kuchh Lutakar
Music Nachiketa Ghosh
Label Saregama
Release Year 1958
Duration 03:38
Release Date 1958-12-31

Sabhi Kuchh Lutakar Lyrics

सभी कुछ लुटाकर हुए हम तुम्हारे
कि है जीत उस की, जो दिल आज हारे
ये खोया सा चंदा, ये बहके से तारे
तो फिर क्यूँ ना मचलें अरमाँ हमारे?
सभी कुछ लुटाकर…

मोहब्बत में खो जा, किसी का तू हो जा
फ़लक से ज़मीं तक हुए ये इशारे
कि है जीत उस की, जो दिल आज हारे
सभी कुछ लुटाकर…

है चुप-चाप वो भी, है ख़ामोश हम भी
खुले जा रहे हैं मगर राज़ सारे
कि है जीत उस की, जो दिल आज हारे
सभी कुछ लुटाकर…

वो रंगीन दुनिया, वो ख़्वाबों की दुनिया
सिमट कर के बाँहों में आई हमारे
कि है जीत उस की, जो दिल आज हारे
सभी कुछ लुटाकर…

Related Posts